Join Our Telegram Group

7th Pay Commission: फिटमेंट फैक्टर पर आया बड़ा अपडेट, जानिये कितनी बढ़ेगी सरकारी कर्मचारियों की सैलरी

7th Pay Commission Latest Update: केंद्र सरकार जल्द ही फिटमेंट फैक्टर को बढाने पर मंजूरी दे सकती है. फिटमेंट फैक्टर बढाने पर न्यूनतम बेसिक पे 18,000 रूपए बढ़कर 26,000 रूपए हो जाएगा. इससे पहले केंद्र सरकार ने वर्ष 2017 में एंट्री लेवल बेसिक पे को 7000 रूपए से बढाकर 18000 रूपए किया था.

7th pay commission Fitment Factor

बढ़ेगी सरकारी कर्मचारियों की सैलरी

वर्तमान में केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को 2.57 प्रतिशत के आधार पर फिटमेंट फैक्टर के तहत वेतन मिल रहा है, जिसे बढाकर 3.68 किये जाने का फैंसला लिया जा सकता है. यदि केंद्र सरकार फिटमेंट फैक्टर को बढाने की घोषणा करती है, तो इससे सरकारी कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में 8000/- रूपए की बढ़ोतरी होगी. इसका मतलब है की, केंद्रीय कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 18000/- रूपए से बढ़कर 26000/- रूपए हो जाएगा.

कितनी बढ़ेगी कर्मचारियों की सैलरी

यदि केंद्र सरकार द्वारा फिटमेंट फैक्टर को 2.57 से बढाकर 3.68 किया जाता है तो, सरकारी कर्मचारियों के न्यूनतम बेसिक पे में 8000/- रूपए का इजाफा होगा, यानि कर्मचारियों का मूल वेतन 18000 रूपए से बढ़कर 26000 रूपए हो जायेगा. यदि किसी कर्मचारी का न्यूनतम वेतन / मूल वेतन (सभी भत्तों को छोड़कर) 18000/- रूपए है तो, उसे 2.57 फिटमेंट फैक्टर के आधार पर 46,260 (18,000*2.57 = 46,280) रूपए मिलेंगे. लेकिन यदि फिटमेंट फैक्टर 3.68 प्रतिशत है तो सैलरी 95,680/- (26000*3.68 = 95,680) रूपए होगी.

कब बढाई गयी बेसिक सैलरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने जून 2017 में 34 संशोधनों के साथ 7वीं वेतन आयोग की सिफारिशों को मंजूरी दी थी. मूल वेतन 7,000/- रूपए से बढाकर 18,000/- रूपए प्रतिमाह किया गया. जबकि उच्चतम स्तर यानि सचिव को 90,000 रूपए से बढाकर 2.5 लाख रूपए किया गया. क्लास 1 के अधिकारियों के लिए शुरूआती वेतन 56,100/- रूपए था.

Leave a Comment

error: Content is protected !!