Nrega Met Application Form – मनरेगा में मेट बनने के लिए योग्‍यता व आवेदन प्रक्रिया

Nrega Met Application Form: मनरेगा योजना एक ऐसी योजना है, जिसके तहत गरीब मजदूरों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाते हैं। योजना के जरिए ग्रामीण क्षेत्र के बेरोजगार पुरुष महिलाओं को 100 दिन का काम दिया जाता है, ताकि लाभार्थी अपने परिवार का पालन पोषण ठीक से कर सके, और आर्थिक रूप से कई सारी परेशानियों का सामना कर सके। बता दें जो शिक्षित मजदूर होते हैं, वह मनरेगा योजना के तहत मेट बन सकते हैं। आज इस लेख के माध्यम से हम नरेगा मेट कैसे बने? इसके बारे में चर्चा करेंगे। यदि आप मनरेगा योजना के तहत नेट बनना चाहते हैं तो आपको यह लेख अंत तक पढ़ना होगा, ताकि आप नरेगा मेट के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकें, चलिए बात करते हैं, नरेगा मेट क्या है, और नरेगा मेट के कार्य क्या है और आवेदन का प्रोसेस क्या है!

Nrega Met Application Form
Nrega Met Application Form

Table of Contents

Nrega Met Application Form

केंद्र सरकार द्वारा महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी अधिनियम के तहत ऐसे लोगों को रोजगार की गारंटी दे रही है जो गरीब है और नौकरी करना चाहते है। इस योजना के तहत मजदूरों को दैनिक मजदूरी 192 मिलती थी जोकि अब 202 रूपये कर दी गई है। इन मजदूरों की देख रेख के लिए और लेखा रखने के लिए एक मेट बनाये जाते है। यह मेट 40 मजदूरों का सारा विवरण रखते है। यदि आप मेट बनना चाहते है तो जल्दी से इसके लिए आवेदन करे।

(पंजीकरण) E Shram Portal 2021

Nrega Met 2021 Overview

नामनरेगा मेट
योजना का नाममहात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना
लांचसन 2005
लांच की गईतत्कालिक केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीगरीब मजदूर
मजदूरी202 रूपये
अधिकारिक वेबसाइटhttp://www.nrega.nic.in/
टोल फ्री नंबर1800111555

क्या होता है नरेगा मेट?

महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत उन लोगों को नौकरी दी जाती है जो नरेगा मेट बनना चाहते हैं और 10 पास कर रखी हो। बता दें, नरेगा मेट को मजदूरों की तरह काम नहीं करना पड़ता। वह मजदूरों की गिनती करता है, मजदूरों की देखरेख और मैनेजमेंट का कार्य करता है। एक तरह से इसे सुपरवाइजर भी कहा जा सकता है। नरेगा मेट का कार्य मजदूरों की हाजिरी लगाना, और यह देखना की कौन सा मजदूर क्या कर रहा है। 40 मजदूरों पर एक सुपरवाइजर लगाया जाता है जिसे हम नरेगा मेट कहते हैं।

मनरेगा योजना में निकली 1278 पदों पर भर्ती

क्‍या काम हैं नरेगा मेट का

  • नरेगा मेट का कार्य मजदूरों की हाजिरी लगाना।
  • मजदूरों की हाजिरी लगाने के बाद उन्हें कार्य बताना या समझाना।
  • नरेगा मेट को कार्य कार्यस्थल पर आने वाले सभी मजदूरों को देखना कि कौन सा मजदूर कार्य कर रहा है, कौन सा मजदूर कार्य नहीं कर रहा है।
  • रोजाना कार्य खत्म होने के बाद सभी मजदूरों का कार्य लिखना, और हस्ताक्षर करवाना।
  • यदि किसी मजदूर की तबीयत खराब हो जाए या बीमार पड़ जाए तो उसे प्राथमिक उपचार की व्यवस्था कराना।
  • मजदूरों के लिए शुद्ध पानी की व्यवस्था उपलब्ध करना।
  • कार्यस्थल पर बैठने के लिए छाया की व्यवस्था करना।

हरियाणा असंगठित श्रमिक सहायता योजना

नरेगा मेट बनने के लाभ

  • नरेगा मेट बनने से व्यक्ति को कोई भी शारीरिक मजदूरी का कार्य नहीं करना पड़ता।
  • नरेगा मेट बनने के लिए व्यक्ति को किसी तरह की परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं है।
  • नरेगा मेट का कार्य हाजिरी भरना, मजदूरों की देखरेख करना।
  • नरेगा मेट को अपने ही ग्रामीण क्षेंत्र में काम दिया जाता हैं, ताकि घर जाने में कोई परेशानी न हो।
  • नरेगा मेट बनने का सबसे बड़ा फायदा है की मजदूरों के मुकाबले उसकी पेमेंट अधिक मिलती है।

मजदूरी श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें

नरेगा मेट नियुक्ति प्रक्रिया में बदलाव

इस योजना के तहत मेट (सुपरवाइजर) चयन प्रक्रिया में विधवा परित्यक्तता, एकल महिला, विकलांग, एससी-एसटी के सदस्य, ओबीसी सदस्य या सामान्य वर्ग को नियुक्ति के लिए पात्र मानी जाती है। इसमें कम से कम 50 प्रतिशत महिलाओं का चयन किया जायेगा। यदि इस श्रेणी में महिला उपलब्ध नहीं है तो अन्य श्रेणी से रखकर 50 प्रतिशत कोटा पूरा किया जायेगा।

नरेगा मेट बनने के लिए पात्रता

  • नरेगा मेट बनने के लिए आवेदनकर्ता भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक कम से कम 10 वीं पास होना चाहिए।
  • आवेदक ग्रामीण क्षेत्र का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के पास जॉब कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदक के पास आईडी प्रूफ दस्तावेज होना चाहिए।
  • आवेदक किसी सरकारी नौकरी पर कार्यरत नहीं होना चाहिए।

नरेगा मेट बनने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • नरेगा जॉब कार्ड
  • मजदूरी कार्ड
  • दसवीं की मार्कशीट की फोटो कॉपी
  • बैंक खाता विवरण
  • पासवर्ड साइज फोटो

मनरेगा में मेट बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

  • यदि आप नरेगा मेट बनना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले अपने क्षेत्र के ग्राम पंचायत में जाना होगा।
  • ग्राम पंचायत से आपको नरेगा मेट आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • अब इस फोरम में पूछी गई जानकारी सही-सही भरनी है।
  • इसके बाद आपको इसमें सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को संलग्न करना है।
  • आवेदन फॉर्म को एक बार फिर से जांच कर लेनी है, ताकि उसमे कोई भी त्रुटि हो उसे पूरी की जा सके।
  • आवेदन फॉर्म को अपनी ग्राम पंचायत मैं जाकर ग्राम विकास अधिकारी को जमा करा देना है।
  • अब आवेदक को अपने आसपास के 40 मजदूरों की सूची तैयार करनी है, और साथ ही उनके जॉब कार्ड की डिटेल भी अपने पास सुरक्षित रखनी है।
  • इसके बाद आवेदक 40 मजदूरों की सूची और डिटेल को ग्राम पंचायत में जमा करा देना है।
  • अब विभाग द्वारा आपके फॉर्म को और सभी दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा।
  • सभी दस्तावेजों का सत्यापन सही होने पर नरेगा मेट बना दिया जाएगा।
  • विभाग द्वारा 40 मजदूरों का एक मस्टरोल जारी कर आपको नरेगा मेट बना दिया जाएगा।

आधार कार्ड नंबर से बैंक बैलेंस चेक कैसे करे

सम्पर्क सूत्र (MoRD Officials)

#NameDesignationOffice Phone No.Fax No.E-Mail
1Shri Rohit KumarJoint Secretary23383553jsppm[dash]mord[at]nic[dot]in
2Shri Jaswant Singh ChauhanPPS23383553js[dot]chauhan[at]nic[dot]in
3Shri Dharamvir JhaDirector (RE-III & V)23385951dharmvir[dot]jha[at]gov[dot]in
4Shri A. P. SinghJoint Director (RE-II, IV & VII)23384399amrendra[dot]singh[at]nic[dot]in
5Shri Sanjay KumarDS (RE-I & VIII)sanjay[dot]kumar67[at]nic[dot]in
6Shri U.K.NairDS (RE-VI)24653278uk[dot]nair64[at]gov[dot]in
7Smt. Sonali DuttaUS (RE-III & V)23382406sonali[dot]dutta[at]nic[dot]in
8Smt SnehLataUS (RE-VI)23388770sneh[dot]lata71[at]nic[dot]in
9Shri Deep Shekhar SinghalUS (RE-V & DDO, MGNREGA)23073187deepshekhar[dot]singhal[at]gov[dot]in
10Shri Pallav Kumar ChittejAssistant Director23389431pallav[dot]chittej[at]gov[dot]in
11Shri ChinaswamyAssistant Director23388770chinnaswamy[dot]r67[at]gov[dot]in
12Ms. HimanshiAssistant Directorhimanshi[dot]97[at]gov[dot]in
13Shri Chand RamSO (RE-III)23386590chandram[dot]25[at]nic[dot]in
14Shri R.S. DagarSO (RE-VI & VII)23387118rs[dot]dagar[at]nic[dot]in
15Shri Mukesh Kumar GautamEO (RE-VI)23386412mukesh[dot]gautam[at]nic.in
16Shri Surjan SinghSO (RE-VII)23384772surjan1805[at]gmail[dot]com

FAQs (नरेगा मेट से जुड़े सवाल जवाब)

मनरेगा योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?

मनरेगा योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://www.nrega.nic.in/ है।

नरेगा मेट क्या है?

नरेगा मेट वह है जो मनरेगा मजदूरों को कार्य और व्यवस्थाओं की देख रेख करता है। मेट एक तरह से सुपरवाईज़र होता है, जिसका काम मजदूरों के हिसाब किताब रखना, उनकी कार्य का विवरण समझाना और भी बहुत कुछ कार्य होते है।

मनरेगा योजना का पूरा नाम क्या है?

मनरेगा योजना का पूरा नाम “महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना” है।

मनरेगा योजना कब लांच हुई?

मनरेगा योजना की शुरुआत सन 2005 में हुई थी।

मनरेगा योजना किसके द्वारा शुरू की गई?

मनरेगा योजना तत्कालिक केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई।

मनरेगा योजना में लाभार्थी कौन कौन है?

मनरेगा योजना में गरीब मजदूर लाभार्थी है।

नरेगा मेट की मासिक आय कितनी है?

मनरेगा योजना के तहत मेट की मासिक आय काम करने वाले मजदूरों से अधिक होती है। मासिक आय अलग-अलग राज्य के हिसाब से अलग-अलग राखी गई है।

नरेगा मेट का पेमेंट कैसे देखें ?

नरेगा मेट अपनी पेमेंट जॉब कार्ड के द्वारा देख सकते है।

नरेगा मेट में आवेदन कैसे करें ?

नरेगा मेट में आवेदन करना चाहते है तो आप अपने गाँव की पंचायत में जाकर पंजीकरण फॉर्म भरकर आवेदन करना है।

महात्मा गाँधी नरेगा मेट किस प्रकार का कार्य करते है?

महात्मा गाँधी नरेगा मेट कम से कम 40 नरेगा मजदूरों की देख रेख करता है और उनका हिसाब किताब रखता है।

मनरेगा योजना टोल फ्री नंबर क्या है?

मनरेगा योजना का हेल्पलाइन नंबर 1800111555 है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!