– आवेदक मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।

– कन्या की आयु 18 वर्ष एवं वर की आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

– कन्या समग्र विवाह पोर्टल पर पंजीकृत होनी चाहिए।

– लाभार्थी के माता-पिता गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे होने चाहिए।

– ऐसी निर्धन गरीब परिवार की महिलाएं जो तलाकशुदा और विधवा है वह पुनर्विवाह करने के लिए इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

– विधवा महिलाओं को इस योजना का लाभ तभी प्रदान किया जाएगा जब उनके पास अपने पहले पति का मृत्यु प्रमाण पत्र होगा।

– वह कभी इस योजना का लाभ प्राप्त करने की पात्र है जिन का पति किसी अन्य राज्य से है।

– केवल सामूहिक विवाह कार्यक्रम की स्थिति में ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

ऐसी ही रोचक Web Story देखने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।