पीएम किसान योजना के लाभार्थियों का पूरा डाटा अप्रूव्ड है.

इसके बाद पैसा मिल रहा है.

इसलिए पीएम किसान स्कीम का लाभार्थी अगर केसीसी के लिए अप्लाई करता है

तो बैंक उसके रिकॉर्ड को लेकर कोई सवाल नहीं उठा सकता.

वो फिजिकल वेरिफिकेशन करेगा. किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) योजना 1998 में शुरू की गई थी.

इसके तहत तीन लाख रुपये तक का लोन मिलता है.

किसान इसका उपयोग बीज, उर्वरक, कीटनाशक जैसे कृषि इनपुट को खरीदने के लिए कर सकता है.

अधिक जाननें के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें

आवेदन करने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें

ऐसी ही रोचक Web Story देखने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।