हर साल जून और जुलाई में इस स्कालरशिप को प्राप्त करने के लिए मेरिट टेस्ट का आयोजन किया जाएगा।

इसके पश्चात स्कालरशिप के तहत मिलने वाली धनराशि को सीधे लाभार्थी के बैंक में डाल दिया जाएगा।

दोस्तों, यह तो स्पष्ट है ही कि इसके लिए लाभार्थी का किसी राष्ट्रीयकृत बैंक में खाता होना आवश्यक है।

इस खाते के संबंध में भी जानकारी लाभार्थी को संबंधित विभाग को देनी होगी।

बैंक खाता संख्या के साथ ही बैंक का आईएफएससी कोड भी लाभार्थी को बताना होगा,

ताकि छात्रवृत्ति की धनराशि के आन लाइन ट्रांसफर में किसी तरह की समस्या सामने न आए।

अधिक जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें

ऐसी ही रोचक Web Story देखने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।